तुम्हे अन्दर से बाहर की तरफ विकसित होना है . कोई तुम्हे पढ़ा नहीं सकता , कोई तुम्हे आध्यात्मिक नहीं बना सकता . तुम्हारी आत्मा के आलावा कोई और गुरु नहीं है . – स्वामी विवेकानंद || You have to grow from the inside out. None can teach you, none can make you spiritual. There is no other teacher but your own soul. – Swami Vivekananda

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *