अगर आप सचमुच स्वतंत्रता , स्वाधीनता की परवाह करते हैं , तो बिना राजनीति के कोई लोकतंत्र या उदार संस्था नहीं हो सकती। राजनीति के रोग का सही मारक और अधिक और बेहतर राजनीति ही हो सकती है। राजनीति का अपवर्जन नहीं। || If you really care for freedom, liberty, There cannot be any democracy or liberal institution without politics. The only true antidote to the perversions of politics is more politics and better politics. Not negation of politics. – Jai Prakash Narayan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *