मनुष्य अपनी सबसे अछ्छे रूप में सभी जीवों में सबसे उदार होता है, लेकिन यदि क़ानून और न्याय ना हों तो वो सबसे खराब बन जाता है. – अरस्तु || At his best, man is the noblest of all animals; separated from law and justice he is the worst. – Aristotle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *