Hindi Quotes by Famous People

Archive

आइये अपने वर्तमान की कुर्बानी दे दें ताकि हमारे बच्चों का भविष्य बेहतर हो सके| || Let us sacrifice our today so that our children can have a better tomorrow. – A.P.J. Abdul Kalam

अक्सर मैं ऐसे बच्चे जो मुझे अपना साथ दे सकते हैं, के साथ हंसी-मजाक करता हूँ. जब तक एक इंसान अपने अन्दर के बच्चे को बचाए रख सकता है तभी तक जीवन उस अंधकारमयी छाया से दूर रह सकता है Read more ›

एक बच्चा एक वयस्क को तीन चीजें सीख सकता है : बिना किसी कारण के खुश होना , हमेशा कुछ करने में व्यस्त होना , और ये जानना कि जो वो चाहता है उसे पूरी ताकत के साथ कैसे माँगा Read more ›

इसे एक नियम बना लीजिये कभी भी किसी बच्चे को वो किताब पढ़ने को मत दीजिये जो आप खुद नहीं पढेंगे .|| Make it a rule never to give a child a book you would not read yourself. – George Read more ›

आप कभी इतने बूढ़े , इतने अनोखे , इतने जंगली नहीं हो सकते की एक किताब उठकर बच्चे के सामने न पढ़ सकें। || You’re never too old, too wacky, too wild, to pick up a book and read to Read more ›

मैं किसी पर क्रोधित नहीं होता. क्या माँ अपने बच्चों से नाराज हो सकती है ? क्या समुद्र अपना जल वापस नदियों में भेज सकता है ? || I get angry with none. Will a mother get angry with her Read more ›

मैं किसी पर क्रोधित नहीं होता. क्या माँ अपने बच्चों से नाराज हो सकती है ? क्या समुद्र अपना जल वापस नदियों में भेज सकता है ? – साईं बाबा || I get angry with none. Will a mother get Read more ›

मंदिर की गंभीर उदासी से बाहर भागकर बच्चे धूल में बैठते हैं, भगवान् उन्हें खेलता देखते हैं और पुजारी को भूल जाते हैं. – रबिन्द्रनाथ टैगोर || From the solemn gloom of the temple children run out to sit in Read more ›

हर बच्चा इसी सन्देश के साथ आता है कि भगवान अभी तक मनुष्यों से हतोत्साहित नहीं हुआ है. – रबिन्द्रनाथ टैगोर || Every child comes with the message that God is not yet discouraged of man. – Rabindranath Tagore

किसी बच्चे की शिक्षा अपने ज्ञान तक सीमित मत रखिये, क्योंकि वह किसी और समय में पैदा हुआ है. – रबिन्द्रनाथ टैगोर || Don’t limit a child to your own learning, for he was born in another time. – Rabindranath Read more ›

आइये हम अपने आज का बलिदान कर दें ताकि हमारे बच्चों का कल बेहतर हो सके । – अब्दुल कलाम