वह जो सभी इच्छाएं त्याग देता है और “मैं ” और “मेरा ” की लालसा और भावना से मुक्त हो जाता है उसे शांती प्राप्त होती है . || One who abandons all desires and becomes free from longing and Read more ›

कर्म मुझे बांधता नहीं, क्योंकि मुझे कर्म के प्रतिफल की कोई इच्छा नहीं. || Works do not bind Me, because I have no desire for the fruits of work. – Bhagwadgita

वह जो अपने परिवार से अत्यधिक जुड़ा हुआ है , उसे भय और चिंता का सामना करना पड़ता है,क्योंकि सभी दुखों कि जड़ लगाव है. इसलिए खुश रहने कि लिए लगाव छोड़ देना चाहिए. – चाणक्य || He who is Read more ›

जब प्यार और नफरत दोनों ही ना हो तो हर चीज साफ़ और स्पष्ट हो जाती है. – ओशो || When love and hate are both absent everything becomes clear and undisguised. – Osho

Related searches: Detachment quotes in hindi, Detachment hindi quotes, Detachment thoughts in hindi, Detachment status in hindi, Detachment suvichar in hindi, Detachment anmol vachan, Detachment slogans in hindi, Detachment captions in hindi, Detachment quotations in hindi, Detachment Dialogues in hindi, Detachment Words in hindi, Detachment Sayings in hindi, Detachment Whatsapp Status in hindi