Hindi Quotes by Famous People

Archive

ये वो नहीं है कि हमें क्या मिलता है। बल्कि ये वो है कि हम क्या बनते हैं, क्या योगदान देते हैं… जो हमारी ज़िन्दगी को मायने देता है। || It is not what we get. But who we become, Read more ›

केवल वे जिन्होंने ईमानदार और निस्वार्थ योगदान की शक्ति को जान लिया है, जीवन की असली ख़ुशी अनुभव करते हैं : सच्ची परिपूर्णता । || Only those who have learned the power of sincere and selfless contribution experience life’s deepest Read more ›

मानवीय स्वाभाव मूल रूप से अच्छा है, और आत्मज्ञान का प्रयास सभी बुराईयों को ख़त्म कर देगा. || Human nature is fundamentally good, and the spread of enlightenment will abolish all wrong. – Sarvepalli Radhakrishnan

शांतिप्रिय लोग आनंद से जीवन जीते हैं और उन पर हार या जीत का कोई प्रभाव नहीं पड़ता| || Happily the peaceful live, discarding both victory and defeat. – Gautam Buddha

जिस व्यक्ति का मन शांत होता है| जो व्यक्ति बोलते और अपना काम करते समय शांत रहता है| वह वही व्यक्ति होता है जिसने सच को हासिल कर लिया है और जो दुःख-तकलीफों से मुक्त हो चुका है| || His Read more ›

जिस व्यक्ति का मन शांत होता है| जो व्यक्ति बोलते और अपना काम करते समय शांत रहता है| वह वही व्यक्ति होता है जिसने सच को हासिल कर लिया है और जो दुःख-तकलीफों से मुक्त हो चुका है| || His Read more ›

स्वयं अध्यन कर के , देख कर , खोखले और खली होकर , तुम एक माध्यम बन जाते हो – तुम परमात्मा का अंश बन जाते हो . तुम देवत्त्व की उपस्थिति को महसूस कर सकते हो . सभी स्वर्गदूत Read more ›

इच्छा हमेशा मैं पर लटकती रहती है . जब स्वयं मैं लुप्त हो रहा हो , इच्छा भी समाप्त हो जाती है , ओझल हो जाती है . || Want is always hanging on to the I. When the I Read more ›

तुम्हारा मस्तिष्क भागने की सोच रहा है और उस अस्तर पर जाने का प्रयास नहीं कर रहा है जहाँ गुरु ले जाना चाहते हैं , तुम्हे उठाना चाहते हैं . || Your mind is trying to find an escape and Read more ›

यद्द्यापी मैं इस तंत्र का रचयिता हूँ , लेकिन सभी को यह ज्ञात होना चाहिए कि मैं कुछ नहीं करता और मैं अनंत हूँ . || Though I am the author of this system, one should know that I do Read more ›

जो व्यक्ति आध्यात्मिक जागरूकता के शिखर तक पहुँच चुके हैं , उनका मार्ग है निःस्वार्थ कर्म . जो भगवान् के साथ संयोजित हो चुके हैं उनका मार्ग है स्थिरता और शांति. || For those who wish to climb the mountain Read more ›

आपके सार्वलौकिक रूप का मुझे न प्रारंभ न मध्य न अंत दिखाई दे रहा है. || Neither do I see the beginning nor the middle nor the end of Your Universal Form. – Bhagwadgita

ये कहना कि आपके पास अपना विचार और जीवन सुधारने का वक़्त नहीं है … ये खेने के बराबर है कि आप इसलिए पेट्रोल नही भरा सकते क्योंकि आप गाडी चलाने में बहुत व्यस्त हैं . || … saying that Read more ›

मैंने एक बार पढ़ा था कि जो लोग दूसरों को पढ़ते हैं वो बुद्धिमान होते हैं लेकिन जो खुद को पढ़ते हैं वो प्रबुद्ध होते हैं . || I once read that people who study others are wise but those Read more ›

किसी आत्मा की सबसे बड़ी गलती अपने असल रूप को ना पहचानना है , और यह केवल आत्म ज्ञान प्राप्त कर के ठीक की जा सकती है . || The greatest mistake of a soul is non-recognition of its real Read more ›

सच्चाई का सामना ऐसे कीजिये जैसे कि वो है , ना की जैसी थी या आप उसे जैसा होना चाहते हैं . || Face reality as it is, not as it was or as you wish it to be. – Read more ›

भगवान एक है, लेकिन उसके कई रूप हैं. वो सभी का निर्माणकर्ता है और वो खुद मनुष्य का रूप लेता है. || God is one, but he has innumerable forms. He is the creator of all and He himself takes Read more ›

आप अपना चेहरा देखने के लिए आइना प्रयोग करते हैं ; आप अपनी आत्मा देखने के लिए कलाकृतियाँ देखते हैं . || You use a glass mirror to see your face; you use works of art to see your soul. Read more ›

अहंकार,दरअसल वास्तविकता में आप नहीं हैं. अहंकार आपकी अपनी छवि है; ये आपका सामजिक मुखौटा है; ये वो पात्र है जो आप खेल रहे हैं. आपका सामजिक मुखौटा प्रशंशा पर जीता है.वो नियंत्रण चाहता है, सत्ता के दम पर पनपता Read more ›

आपने इस क्षण अपने जीवन में जो भी सम्बन्ध आकर्षित किये हैं , ठीक वही इस क्षण आपके जीवन में आवश्यक है . हर घटना के पीछे एक छिपा अर्थ है , और यह छिपा अर्थ आपके अपने विकास में Read more ›

हम ऐसे समय में जी रहे हैं जब दुनिया ने अचानक भारत को खोज लिया है क्योंकि उसके पास कल्पना करने को कुछ नहीं बचा है. कल्पना के लिए यहाँ अनिर्मित वस्तुओं की कमी नहीं है. || We’re living in Read more ›

अपने शरीर को जानकार कर एवं विश्वास और जीव विज्ञान के बीच कि कड़ी समझ कर आप उम्र बढ़ने से मुक्ति पा सकते हैं. || You can free yourself from aging by reinterpreting your body and by grasping the link Read more ›

अपने आनंद से पुनः जुड़ने से महत्त्वपूर्ण और कुछ भी नहीं है. कुछ भी इतना समृद्ध नहीं है.कुछ भी इतना वास्तविक नहीं है. || Nothing is more important than reconnecting with your bliss. Nothing is as rich. Nothing is more Read more ›

ब्रह्माण्ड में कोई भी टुकड़ा अतिरिक्त नहीं है. हर कोई यहाँ इसलिए है क्योंकि उसे कोई जगह भरनी है, हर एक टुकड़े को बड़ी पहेली में फिट होना है. || There are no extra pieces in the universe. Everyone is Read more ›

हर एक चीज में खूबसूरती होती है, लेकिन हर कोई उसे नहीं देख पाता. || Everything has beauty, but not everyone sees it. – Confucius

अगर मेरा भक्त गिरने वाला होता है तो मैं अपने हाथ बढ़ा कर उसे सहारा देता हूँ. || If a devotee is about to fall, I stretch out my hands to support him or her. – Sai Baba

मैं किसी पर क्रोधित नहीं होता. क्या माँ अपने बच्चों से नाराज हो सकती है ? क्या समुद्र अपना जल वापस नदियों में भेज सकता है ? || I get angry with none. Will a mother get angry with her Read more ›

यदि कोई सिर्फ और सिर्फ मुझको देखता है और मेरी लीलाओं को सुनता है और खुद को सिर्फ मुझमें समर्पित करता है तो वह भगवान तक पंहुच जायेगा. || If one sees me and me alone and listens to my Read more ›

यदि कोई अपना पूरा समय मुझमें लगाता है और मेरी शरण में आता है तो उसे अपने शरीर या आत्मा के लिए कोई भय नहीं होना चाहिए. || If one devotes their entire time to me and rests in me, Read more ›

जैसे मोमबत्ती बिना आग के नहीं जल सकती , मनुष्य भी आध्यात्मिक जीवन के बिना नहीं जी सकता. – भगवान गौतम बुद्ध || Just as a candle cannot burn without fire, men cannot live without a spiritual life. – Lord Read more ›

उनमे से हर कोई किसी न किसी भेस में भगवान है. – मदर टेरेसा || Each one of them is Jesus in disguise. – Mother Teresa

भगवान मूर्तियों में नहीं है.आपकी अनुभूति आपका इश्वर है.आत्मा आपका मंदिर है. – चाणक्य || God is not present in idols. Your feelings are your god. The soul is your temple. – Chanakya

जेन एकमात्र धर्म है जो एकाएक आत्मज्ञान सीखता है. इसका कहना है कि आत्मज्ञान में समय नह लगता, ये बस कुछ ही क्षणों में हो सकता है. – ओशो || Zen is the only religion in the world that teaches Read more ›

आत्मज्ञान एक समझ है कि यही सबकुछ है, यही बिलकुल सही है , बस यही है. आत्मज्ञान कोई उप्लाब्धि नही है, यह ये जानना है कि ना कुछ पाना है और ना कहीं जाना है. – ओशो || Enlightenment is Read more ›

यदि आप एक दर्पण बन सकते हैं तो आप एक ध्यानी बन सकते हैं. ध्यान दर्पण में देखने की कला है. और अब, आपके अन्दर कोई विचार नहीं चलता इसलिए कोई व्याकुलता नहीं होती. – ओशो || If you can Read more ›