Hindi Quotes by Famous People

Archive

हमारी ताकत और स्थिरता के लिए हमारे सामने जो ज़रूरी काम हैं उनमे लोगों में एकता और एकजुटता स्थापित करने से बढ़ कर कोई काम नहीं है. || Among the major tasks before us none is of greater importance for Read more ›

मेरी समझ से प्रशाशन का मूल विचार यह है कि समाज को एकजुट रखा जाये ताकि वह विकास कर सके और अपने लक्ष्यों की तरफ बढ़ सके. || The basic idea of governance, as I see it, is to hold Read more ›

एकता के बिना जनशक्ति शक्ति नहीं है जबतक उसे ठीक तरह से सामंजस्य में ना लाया जाए और एकजुट ना किया जाए, और तब यह आध्यात्मिक शक्ति बन जाती है. || Manpower without Unity is not a strength unless it Read more ›

शाशक वर्ग को कम्युनिस्ट क्रांति के डर से कांपने दो . मजदूरों के पास अपनी जंजीरों के आलावा और कुछ भी खोने को नहीं है . उनके पास जीतने को एक दुनिया है . सभी देश के कामगारों एकजुट हो Read more ›

दुनिया के मजदूरों एकजुट हो जाओ ; तुम्हारे पास खोने को कुछ भी नहीं है ,सिवाय अपनी जंजीरों के. || Workers of the world unite; you have nothing to lose but your chains. – Karl Marx

किसी दिन संयुक्त राज्य अमेरिका का उदाहरण अपनाते हुए , संयुक्त राज्य यूरोप होगा. || Some day, following the example of the United States of America, there will be a United States of Europe. – George Washington

सभी देशों के प्रति अच्छी भावना और न्याय रखें . सभी के साथ शांति और सद्भाव स्थापित करें . || Observe good faith and justice toward all nations. Cultivate peace and harmony with all. – George Washington

यदि आप और मैं इस क्षण किसी के भी विरुद्ध हिंसा या नफरत का विचार ला रहे हैं तो हम दुनिया को घायल करने में योगदान दे रेहे हैं. || If you and I are having a single thought of Read more ›

सभी प्रमुख धार्मिक परम्पराएं मूल रूप से एक ही संदेश देती हैं – प्रेम , दया,और क्षमा , महत्वपूर्ण बात यह है कि ये हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा होनी चाहियें. || All major religious traditions carry basically the same Read more ›

यदि हम एक संयुक्त एकीकृत आधुनिक भारत चाहते हैं तो सभी धर्मों के शाश्त्रों की संप्रभुता का अंत होना चाहिए . || The sovereignty of scriptures of all religions must come to an end if we want to have a Read more ›

हम उम्मीद करते हैं की विश्व प्रबुद्ध स्वार्थ की भावना से काम करेगा . || We hope the world will act in the spirit of enlightened self-interest. – Atal Bihari Vajpayee

पहले एक अन्तर्निहित दृढ विश्वास था कि संयुक्त राष्ट्र अपने घटक राज्यों की कुल शक्ति की तुलना में अधिक शक्तिशाली होगा. || There was an implicit conviction that the UN would be stronger than the sum of its constituent member-states. Read more ›

इस दुनिया में सभी भेद-भाव किसी स्तर के हैं, ना कि प्रकार के, क्योंकि एकता ही सभी चीजों का रहस्य है. – स्वामी विवेकानंद || All differences in this world are of degree, and not of kind, because oneness is Read more ›